Khabar AajkalNewsPoliticsPopular

दो करोड़ की लूट कांड को सुलझाने में उलझा बिहार- बंगाल पुलिस

दो करोड़ की लूट कांड को सुलझाने में उलझा बिहार- बंगाल पुलिस
– लूट के पीछे का रहस्य गहराता जा रहा है
अशोक झा, सिलीगुड़ी: बिहार के किशनगंज  से सटे बंगाल के रामपुर चेक पोस्ट के समीप स्कार्पियो सवार नकाबपोश अपराधियों ने दिन के उजाले में बंदूक की नोक पर कैश वैन से 2 करोड़ तीन लाख रुपए लूट लिए। एनएच 27 पर एसआईएस के कैश वैन कर्मियों से मंगलवार को 2 करोड़ 3 लाख रुपये लूट की घटना घटी। पुलिस मामले को संदेहास्पद मानते हुए कैश वैन के कर्मी की संलिप्तता मान रही है। घटना के बाद एसआईएस कर्मी सदर थाना पहुंचकर वारदात की जानकारी दी है। कैश वैन से दो करोड़ की लूट: घटना के सम्बंध में बताया जाता है कि निजी सुरक्षा एजेंसी एसआईएस के पांच कर्मी किशनगंज बिहार गांधी चौक एसबीआई मुख्य शाखा से 2 करोड़ 40 लाख रुपये लेकर खगड़ा बीएसएफ केंप के पास एसबीआई के एटीएम पहुंचे. खगड़ा में एक एटीएम में 25 लाख और एक एटीएम में 12 लाख कैश डाला। उनमें से दो कर्मी कैश वैन चालक बंगाल के ग्वालपोखर निवासी जमील अख्तर और चाकुलिया निवासी गनमैन गुलजार हुसैन वहां से डीजल भराने के नाम पर शहर से सटे बंगाल के रामपुर की ओर चले गए।
बंगाल में हुई लूट: चालक जमील और गनमैन गुलजार ने पुलिस को बताया कि बंगाल में रामपुर चौक से थोड़ी दूरी पर एक पेट्रोल पम्प के पास एनएच 27 पर स्कार्पियो सवार अपराधियों ने गाड़ी रुकवायी और स्कार्पियो से बाहर निकल कर रिवाल्वर तान दी। चालक ने बताया कि स्कार्पियो में पांच बदमाश सवार थे. बदमाशों ने बंदूक की नोक पर कैश वैन के ताले को खुलवाया और वैन में रखे ट्रंक की कुंडी तोड़कर 2 करोड़ 3 लाख रुपये निकाल कर फरार हो गये। घटना के बाद चालक और अन्य एसआईएस कर्मी सदर थाना पहुंचे और घटना की जानकारी दी।

मामले की जांच में जुटी पुलिस: घटना बंगाल क्षेत्र का होने के कारण बंगाल के चाकुलिया थाने की पुलिस को भी घटना की सूचना दी गई। इधर एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी के नेतृत्व में सदर थानाध्यक्ष अमर प्रसाद सिंह पुलिस के साथ घटना स्थल पहुंचे और घटना की पड़ताल की। घटना स्थल बंगाल क्षेत्र का होने के कारण सदर थाने में जीरो एफआईआर किये जाने की प्रक्रिया जारी थी। एसपी किशनगंज डॉक्टर इनामुल हक मेगनु ने बताया कि प्रथमदृष्टया मामले में एसआईएस कर्मियों की संलिप्तता सामने आ रही है। वैन का जीपीएस भी खंगाला गया है। कैश लेकर डीजल भराने के लिए पेट्रोल पंप जाने की बात भी संदिग्ध लग रहा है। फिलहाल थाने में जीरो एफआईआर दर्ज करवाया जा रहा है। 
दो करोड़ तीन लाख की लूट: एसबीआई मुख्य शाखा गांधीचौक से एसआईएस कंपनी के 5 कर्मी दो करोड़ 40 लाख रुपए लेकर क्या कैश वैन से खगड़ा बीएसएफ कैंप के बाहर एटीएम में पहुंचे थे. जहां दो एटीएम में 37 लाख रुपए दो कर्मी विनय कुमार मंडल और दशरथ राउत एटीएम के अंदर डाल रहे थे और एक गनमैन सुल्तान एटीएम के बाहर सुरक्षा में खड़ी थी. सड़क पर कैश वैन पर चालक जमील अक्तर और गनमैन गुलजार हुसैन था।पुलिस को लग रहा संदिग्ध मामला: सभी अचानक किसी को कुछ बताए बिना चालक और गनमैन रुपए भरा गाड़ी लेकर बंगाल तेल भरने चला गया इसी दौरान अपराधियों ने घटना को अंजाम दे दिया। हालांकि, मामले को लेकर पुलिस पांचों कर्मियों से पूछताछ कर रही है। पुलिस घटना को संदिग्ध मान रहे हैं। हालांकि घटनास्थल बंगाल होने के कारण टाउन थाना में जीरो एफआईआर कर चाकुलिया थाना भेजा जाएगा।अमित कुमार, चीफ मैनेजर, एसबीआई मुख्य शाखा, गांधीचौक किशनगंज ने बताया कि एटीएम में रुपया भरने का काम आउट सोर्स कंपनी करती है। सिर्फ बैंक रुपया लेकर उन्हें दे देता है। बैंक से ले जाने से लेकर सुरक्षा तक निजी कंपनी की जिम्मेवाली होती है। 
अनवर जावेद अंसारी, एसडीपीओ, किशनगंज ने बताया कि ये लोग किशनगंज थाना पहुंचे और घटना के बारे में इन लोगों ने बताया तो हमलोग आके पीओ विजिट किये। पूछताछ किए, जीपीएस का लोकेशन भी हमलोगों ने ट्रेक किया है और घटना स्थल पर आए हैं। चकुलिया थाना के पदाधिकारी भी किशगंज पहुंचे और उनलोगों को हमलोगों ने सारी जानकारी दी। उन्होंने कहा की पीओ दिखा दीजिए. हमलोग यहां आए हुए हैं। पर बंगाल पुलिस की कोई अता पता नहीं है। आसपास के लोगों ने इस तरह की घटना से इंकार किया है। पुलिस जांच कर रही है। रिपोर्ट अशोक झा

Related Articles

Back to top button