Khabar AajkalNewsPoliticsPopular

सर्वोच्च बलिदान देने वाले इन बलिदानी जवानों को देश कभी नहीं भुला सकता: रक्षा मंत्री

सर्वोच्च बलिदान देने वाले इन बलिदानी जवानों को देश कभी नहीं भुला सकता: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
-मणिपुर में भूस्खलन में शहीद वीर जवानों की 19 ‘वीर नारियों’ को  किया सम्मानित
अशोक झा सिलीगुड़ी: केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने वीरांगना सम्मान समारोह में मणिपुर में भूस्खलन में शहीद वीर जवानों की 19 ‘वीर नारियों’ को सम्मानित किया। उन्होंने प्रत्येक’वीर नारियों’ को सात-सात लाख रुपये का चेक सौंपा। रक्षा मंत्री सिंह के साथ सेना प्रमुख मनोज पांडे भी थे। इस मौके पर केन्द्रीय मंत्री सिंह ने शहीदों को श्रद्धा सुमन अर्पित करने के बाद कहा कि यह देश की एक बहुत बड़ी क्षति है। हम शहीद जवानों के परिवारों को हर प्रकार से मदद कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 29 और 30 जून को तुपुल भूस्खलन में रेल प्रोजेक्ट इलाके में अचानक लैंडस्लाइड में 61 सेना के जवान शहीद हो गए थे।
रक्षा मंत्री सिंह ने कहा कि हादसे में अपना सर्वोच्च बलिदान देने वाले इन बलिदानी जवानों को देश कभी नहीं भुला सकता है। वह अपने निजी स्वार्थ के लिए नहीं, बल्कि देश के लिए अपना बलिदान दिए हैं। उन्होंने बलिदानी जवानों के परिजनों को सांत्वना देते हुए कहा किसी के जीवन का मूल्य पैसे व धन दौलत देकर नहीं चुकाई जा सकता। उन्होंने परिजनों का हौसला बढ़ाते हुए  कहा कि देश के लिए बलिदान देने वाले जवानों के प्रति उन्हें गौरव होना चाहिए। क्योंकि वह देश के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया हैं। उन्होंने कहा की ‘यदि कोई कहता है कि नहीं मौत से भय नहीं लगता है, तो वह या तो झूठ बोलता है, या वह गोरखा है।’ उन्होंने आश्वासन दिया कि बलिदानी जवानों के परिजनों को अगर किसी तरह की समस्या है तो निसंकोच अपनी शिकायत करें। उनके समस्याओं का समाधान किया जाएगा। नारी सम्मान समारोह के मौके पर थल सेना अध्यक्ष जनरल मनोज पांडे, दार्जिलिंग लोकसभा क्षेत्र के सांसद राजू बिष्ट, आर्मी त्रिशक्ति कोर के जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल तरुण आइच समेत अन्य लोग मौजूद थे।सुकना में कार्यक्रम के बाद राजनाथ सिंह इंफाल के लिए रवाना हो गए। रिपोर्ट अशोक झा

Related Articles

Back to top button