Khabar AajkalNewsPopularSiliguri

पुठीमारी में समाज सेवी राजीव दास के द्वारा अपने स्वर्गीय पिता की याद में बनाई भव्य मंदिर

पुठीमारी में समाज सेवी राजीव दास के द्वारा अपने स्वर्गीय पिता की याद में बनाई भव्य मंदिर.. जिसका आज हुआ उद्घाटन !!

बागडोगरा गोसाईपुर ग्राम पंचायत अंतर्गत पड़ने वाले पुठीमारी में समाज सेवी राजीव दास के द्वारा अपने स्वर्गीय पिता शशि भूषण दास के याद में भव्य रुप से मंदिर बनाया गया।

जिसका आज उद्घाटन किया गया इस मौके पर दार्जिलिंग जिला तृणमूल कांग्रेस की प्रेसिडेंट श्रीमती पापिया घोष महाशय ने रिबन काटकर आज मंदिर का शुभ उद्घाटन किया साथ ही उन्होंने मंदिर में शिव जी की पूजा अर्चना भी की।

इस मंदिर में काली मंदिर , शिव मंदिर और शीतला मंदिर बनाई गई हैं।

आपको बता दे कि, इस मंदिर में स्थापित शिवलिंग मध्यप्रदेश के नर्मदा नदी से जागृत नर्मदेश्वर शिवलिंग जिसका जिक्र पुराण में किया गया है। इसका रूद्र अभिषेक पांच जगह के गंगाजल जैसे सुल्तानगंज , मनिहारी , फरक्का जैसे जगह से लेकर किया गया है।

आज इस मंदिर के उद्घाटन के मौके पर मंदिर को बड़े सुंदर तरीके से फूलों से सजाई गई थी इस दौरान श्रीमती पापिया घोष महाशय के साथ-साथ और भी कई गणमान्य लोग उपस्थित रहें।

राजीब दास एक समाज सेवी हैं और वह पूठिमारी क्षेत्र एवं बागडोर क्षेत्र में अपने कार्यों के नाम से अलग ही पहचान बना चुके हैं, लॉकडाउन के समय में उन्होंने अपने कर्मठ सदस्यों के साथ मिलकर जमकर लोगों की सेवा की थी ,

जिस मंदिर का उन्होंने भव्य निर्माण किया उस मंदिर के निर्माण के लिए स्थानीय लोगों ने कई जगह पर सिफारिश रखी लेकिन कहीं से कोई काम नहीं बना,

पहले यह मंदिर लकड़ी की बनी हुई थी और यहां पर सिर्फ काली मंदिर ही थी समाजसेवी राजीव दास जी ने इस मंदिर के भव्य निर्माण का बेडा उठाया और 2 महीने के अंदर इस मंदिर को एक भव्य रूप दे दी,

राजीव दास जी से बात होने पर उन्होंने बताया कि यह मंदिर का निर्माण बहुत पहले हो जाना था लेकिन इस मंदिर में इससे पहले काली मंदिर थी जिसे 2014 में उन्हीं के द्वारा मजबूती देकर पक्के का बनाया गया था,

जिसके बाद उन्होंने इस मंदिर कों 12अगस्त 2022 में माँ काली, नर्मदा नदी से आए जागृत शिवलिंग एवं शीतला मां को स्थापित किया गया है,

वहीं आगामी दिनों में वहां एक हनुमान मंदिर का भी निर्माण कर उसमें हनुमान जी की प्रतिमा स्थापित की जाएगी,

इस मंदिर के भव्य निर्माण होने से गांव में काफी खुशी की लहर है क्योंकि गांव के लोगों को पूजा करने के लिए अलग-अलग जगहों पर लंबी दूरी तय करके जाना पड़ता था, इस मंदिर में इतनी जगह बनाई गई है जहां पर आगामी दिनों में अगर किसी भी तरह की कोई शादी विवाह जैसा कोई कार्यक्रम भी आसानी से संपन्न किया जा सकेगा ❗️

Related Articles

Back to top button