Khabar AajkalNewsPoliticsPopular

ईडी के सामने सोनिया गांधी होंगी पेश,देश भर में कांग्रेस का प्रदर्शन

ईडी के सामने सोनिया गांधी होंगी पेश,देश भर में कांग्रेस का प्रदर्शन
नेशनल हेराल्ड केस में होगी पूछताछकई बार समन भेजने के बाद पूछताछ के लिए आज पहुंच रही सोनिया
अशोक झा, सिलीगुड़ी: नेशनल हेराल्ड से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में आज प्रवर्तन निदेशालय कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी  से पूछताछ करेगी. जांच एजेंसी ईडी ( ED ) की ओर से की जाने वाली इस पूछताछ के विरोध में कांग्रेस पूरे देश में प्रदर्शन करेगी। 
कांग्रेस करेगी देश व्यापी विरोध-प्रदर्शन
ED द्वारा सोनिया गांधी से पूछताछ के खिलाफ कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करेंगे। कांग्रेस ने अपनी राज्य इकाइयों से अपने-अपने क्षेत्रों में विरोध प्रदर्शन करने को कहा है। इस मामले में रणनीति पर चर्चा अंतिम रूप देने के लिए बुधवार को विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के घर में बैठक हुई। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि बैठक में सभी ने विपक्ष की आवाज को दबाने के खिलाफ अपना गुस्सा व्यक्त किया है। गहलोत ने कहा, ‘कांग्रेस सोनिया गांधी के साथ खड़ी रहेगी।”पार्टी कार्यकर्ता अकबर रोड स्थित कांग्रेस मुख्यालय पर एकत्र होंगे जहां से सोनिया गांधी ईडी कार्यालय के लिए रवाना होंगी। इस दौरान अशोक गहलोत पार्टी के मीडिया प्रचार अध्यक्ष पवन खेड़ा मीडिया को संबोधित करेंगे। कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर बुधवार को एक नोट साझा किया गया कहा, “ईडी सोनिया गांधी को कैसे डरा सकती है, जिनके पूर्वजों ने दुनिया का भूगोल बदल दिया। कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने ट्वीट किया, ”मोदी-शाह की जोड़ी द्वारा हमारे शीर्ष नेतृत्व के खिलाफ जिस प्रकार से राजनीतिक प्रतिशोध जारी है, उसके विरुद्ध कांग्रेस पार्टी अपनी नेता सोनिया गांधी के साथ सामूहिक एकजुटता व्यक्त करते हुए कल देश भर में प्रदर्शन करेगी। सोनिया गांधी से पूछताछ के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस मुख्यालय और ईडी कार्यालय के निकट सुरक्षा चाकचौबंद कर दी है। 24 अकबर रोड पर अवरोधक लगाया गया था। ईडी द्वारा पहले सोनिया गांधी (75) को 23 जून के लिए दूसरा समन जारी किया गया था, लेकिन वह उस तारीख पर पेश नहीं हो सकीं, क्योंकि कोविड​​-19 और फेफड़ों में संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती होने के बाद चिकित्सकों ने उन्हें घर पर आराम करने की सलाह दी थी। कांग्रेस अध्यक्ष को पूर्व में 8 जून को पेशी के लिए नोटिस जारी किया गया था, लेकिन कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद उन्हें 23 जून के लिए समन जारी किया गया था। ईडी ने सोनिया गांधी के पुत्र और कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से इस मामले में पांच दिनों तक कई सत्र में 50 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी। यह जांच कांग्रेस द्वारा प्रवर्तित यंग इंडियन प्राइवेट लिमिटेड में कथित वित्तीय अनियमितताओं से संबंधित है, जो नेशनल हेराल्ड अखबार का मालिक है. सोनिया, राहुल से पूछताछ की कार्रवाई पिछले साल के अंत में ईडी द्वारा धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) की आपराधिक धाराओं के तहत एक नया मामला दर्ज करने के बाद शुरू की गई. इससे पहले, एक निचली अदालत ने 2013 में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी द्वारा दायर एक निजी आपराधिक शिकायत के आधार पर यंग इंडियन के खिलाफ आयकर विभाग की जांच का संज्ञान लिया था।क्या है नेशनल हेराल्ड केस ?

वर्ष 2012 में बीजेपी के नेता अधिवक्ता सुब्रमण्यम स्वामी ने एक निचली अदालत के समक्ष एक शिकायत दर्ज की जिसमें आरोप लगाया गया कि यंग इंडियन लिमिटेड (YIL) द्वारा एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड के अधिग्रहण में कुछ कांग्रेस नेता धोखाधड़ी विश्वासघात में शामिल थे। उन्होंने आरोप लगाया कि YIL ने नेशनल हेराल्ड की संपत्ति को ‘दुर्भावनापूर्ण’ तरीके से ‘कब्जा’ कर लिया था। नेशनल हेराल्ड 1938 में अन्य स्वतंत्रता सेनानियों के साथ जवाहरलाल नेहरू द्वारा स्थापित एक समाचार पत्र था। सुब्रमण्यम स्वामी का दावा है कि YIL ने 2,000 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति लाभ हासिल करने के लिए “दुर्भावनापूर्ण” तरीके से निष्क्रिय प्रिंट मीडिया आउटलेट की संपत्ति को “अधिग्रहित” किया। वर्ष 2014 में प्रवर्तन निदेशालय ने यह देखने के लिए जांच शुरू की कि क्या इस मामले में कोई मनी लॉन्ड्रिंग है। रिपोर्ट अशोक झा

Related Articles

Back to top button