Khabar AajkalNewsPopular

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने लगभग 12 करोड़ रुपये की राशि जब्त

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने लगभग 12 करोड़ रुपये की राशि जब्त
-पंकज मिश्रा व उनके सहयोगियों के 37 बैंक खातों में अरे थे इतने धनराशि
अशोक झा, सिलीगुड़ी# झारखंड में ED की दबिश लगातार बढ़ती जा रही है। 5 मई से शुरू हुई ED की कार्रवाई अब भी बदस्तूर जारी है। ED की तरफ से पहली बार आधिकारिक जानकारी दी गई कि झारखंड में हाल के दिनों में छापेमारी के दौरान कितना कैश जब्त किया गया।
झारखंड में हुए अवैध खनन के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने पंकज मिश्रा  समेत उनके सहयोगियों के 37 बैंक खातों में पड़े लगभग 12 करोड़ रुपये की राशि जब्त कर ली है। इसके पहले ईडी ने इस मामले में तलाशी अभियान के दौरान 5 करोड़ रुपये से ज्यादा की नकदी, 5 स्टोन क्रेशर, 5 अवैध बंदूक और कारतूस बरामद किए थे। इनमें पंकज मिश्रा को राजनेताओं का करीबी बताया जाता है। यूपी के एक आला अधिकारी ने बताया कि अवैध खनन से जुड़ा यह मामला झारखंड से संबंधित है। इस मामले में अब तक विभिन्न व्यक्तियों के बयान डिजिटल साक्ष्य दस्तावेजों सहित जांच के दौरान एकत्र किए गए सबूतों से पता चला है कि जब्त नगद बैंक बैलेंस साहिबगंज क्षेत्र में बड़े पैमाने पर कथित रूप से कराए जा रहे अवैध खनन से प्राप्त हुआ था। यह भी पता चला है कि इस अवैध खनन से लगभग 100 करोड़ रुपये की अपराध की संपत्ति बनाई गई है यह संपत्ति कहां-कहां है इस बाबत जांच जारी है।
किन लोगों के खिलाफ हुई कार्रवाई? 
ईडी के आला अधिकारी के मुताबिक ईडी ने आज जिन लोगों के बैंक खातों में पड़े पैसे जब्त किए हैं उनमें पंकज मिश्रा, दाऊ यादव और उनके सहयोगी शामिल हैं। ध्यान रहे कि ईडी ने 8 जुलाई 2022 को 19 स्थानों पर तलाशी ली थी। जिसमें साहिबगंज बरहेट राजमहल मिर्जाचौकी और बरहरवा जगह शामिल थे। इसके पहले मई 2022 के महीने में ईडी ने मनरेगा घोटाले से जुड़े 36 स्थानों पर तलाशी ली थी जिसके परिणाम स्वरूप लगभग 20 करोड़ रुपये की नगद रकम बरामद की गई थी। जिन लोगों के यहां छापेमारी की गई थी उसमें आईएएस पूजा सिंघल और उनके सहयोगियों के परिसर शामिल थे। ईडी का दावा है कि इस मामले में भी विभिन्न व्यक्तियों के बयान और तलाशी के दौरान एकत्र किए गए सबूतों से पता चला है कि बरामद नकदी का बड़ा हिस्सा अवैध खनन से प्राप्त हुआ था।यह वरिष्ठ नौकरशाहों और राजनेताओं से संबंधित था।  इस मामले में ईडी  ने पूजा सिंघल  और सुमन कुमार नाम के एक चार्टर्ड अकाउंटेंट को गिरफ्तार किया था और फिलहाल वे न्यायिक हिरासत में जेल में हैं. इन मामलों में जांच जारी है। रिपोर्ट अशोक झा

Related Articles

Back to top button