Khabar AajkalNewsPoliticsPopular

अग्निपथ सैन्य भर्ती योजना  की सराहना, अर्थव्यवस्था और गरीब कल्याण संकल्प प्रस्ताव पारित

अग्निपथ सैन्य भर्ती योजना  की सराहना, अर्थव्यवस्था और गरीब कल्याण संकल्प प्रस्ताव पारित
-बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारणी में कहा मोदी का काम एक वैश्विक मॉडल
 अशोक झा, सिलीगुड़ी:  भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में शनिवार को अग्निपथ सैन्य भर्ती योजना  की सराहना की गई। कार्यकारिणी ने पीएम मोदी और रक्षा मंत्रालय की सराहना करने के साथ इसे रोजगार के दरवाजे खोलने वाली योजना बताया। दरअसल, विपक्ष ने अग्निपथ योजना को युवा विरोधी बताया है। जबकि सरकार का कहना है कि अगले 18 महीनों में दस लाख नौकरियां मिलेगी।
गरीब कल्याण संकल्प का प्रस्ताव भी पास
बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारणी में अर्थव्यवस्था और गरीब कल्याण संकल्प (गरीबों के कल्याण के लिए संकल्प) पर एक प्रस्ताव पारित किया गया। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दावा किया कि इस संबंध में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी का काम एक वैश्विक मॉडल बन गया है। उन्होंने एक सवाल का जवाब देते हुए नौकरी के संकट के बारे में विपक्ष के आरोपों को भी खारिज कर दिया और कहा कि पिछले केंद्रीय बजट ने सार्वजनिक खर्च के लिए सबसे अधिक आवंटन किया था और सरकार ने कोविड महामारी के दौरान सबसे अधिक पूंजीगत खर्च किया था। यह सब रोजगार सृजन से जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि सरकार ने नौकरियां पैदा की हैं और गरीबों का ख्याल रखा है।
किसने रखा प्रस्ताव, किसने किया समर्थन
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रस्ताव का प्रस्ताव रखा, जबकि उनके कैबिनेट सहयोगी पीयूष गोयल और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इसका समर्थन किया।
अर्थव्यवस्था को लेकर भी प्रस्ताव
मुद्रास्फीति और अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये के लगातार कमजोर होने के बारे में सवालों के जवाब में प्रधान ने कहा कि अभूतपूर्व संकट भारत तक सीमित नहीं था क्योंकि कई प्रमुख अर्थव्यवस्थाएं उच्च मुद्रास्फीति से पीड़ित थीं। वैश्विक कमोडिटी की कीमतों में आसमान छूते हुए महामारी ने पूरी दुनिया को अस्त-व्यस्त कर दिया। उन्होंने यूक्रेन में युद्ध का हवाला देते हुए कहा कि भारत को अलग-थलग करके नहीं देखा जा सकता। उन्होंने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था 8 प्रतिशत से अधिक की दर से बढ़ रही है, देश वैश्विक निवेश का केंद्र बन गया है।
क्या है अग्निपथ योजना?
पिछले महीने, सरकार ने अग्निपथ योजना की घोषणा की थी। योजना के तहत साढ़े 17 से 21 वर्ष की आयु के युवाओं को चार साल के कार्यकाल के लिए सशस्त्र बलों में शामिल किया जाएगा। इसमें से 25 प्रतिशत युवाओं को बाद में सशस्त्र बलों में नियमित सेवा के लिए शामिल किया जाएगा।
दो दिन की है राष्ट्रीय कार्यकारिणी
दक्षिण भारत में भाजपा की जड़ें जमाने और इसी साल के अंत में दो राज्यों में होने जा रहे विधानसभा चुनाव की रणनीति बनाने जैसे महत्वपूर्ण एजेंडे को लेकर हैदराबाद में बीजेपी का बड़ा मंथन हो रहा है। शनिवार को पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक की शुरुआत हुई। इसमें पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह जैसे सभी दिग्गज नेता शामिल हुए हैं। हैदराबाद में 18 साल बाद पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हो रही है। इसमें देशभर से करीब 350 सदस्य शामिल होंगे। बैठक के बाद 3 जुलाई को पीएम मोदी की जनसभा भी होगी।केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने जानकारी दी है कि भाजपा की राष्ट्रीय कार्यसमिति बैठक में ‘आर्थिक और गरीब कल्याण संकल्प प्रस्ताव’ पहला प्रस्ताव अभी-अभी पारित हुआ है। इस प्रस्ताव का मुख्य प्रस्तावक देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया, इसका समर्थन राज्य सभा में भाजपा के नेता पीयूष गोयल जी तथा हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर  ने किया।उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  का नेतृत्व, उनकी दृष्टि और निर्णय शक्ति को जिसमें जो वादा हमने किया था, ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास’ ये हमारी सरकार के गवर्नेंस की पद्धति रही है। आर्थिक रूप से देश की रफ्तार बहुत ही उत्साहजनक है। 2021-22 में 8.7 % की विकास दर आप सभी के सामने है। इसी बीच में देश का एक्सपोर्ट बढ़ा है, देश में FDI ज्यादा आया है।पिछले 8 वर्षों में देश में GST से लेकर PLI तक अनेक निर्णय लिए गए हैं। देश में गरीबों की चिंता भाजपा सरकार की प्राथमिकता रही है। हर एक कदम, हर एक फैसला देश के गरीबों को ध्यान में रखते हुए मोदी सरकार ने किया है। वसुंधरा राजे ने कहा कि, अभी अभी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर में हुए विधानसभा चुनावों और कुछ निकाय चुनावों एवं रामपुर, आजमगढ़ के लोकसभा उपचुनाव और त्रिपुरा के विधानसभा उपचुनावों में भाजपा की बहुत बड़ी विजय हुई है।आगामी 2024 के राष्ट्रीय चुनाव, पार्टी का विस्तार और भाजपा से जुड़ी नीतियां प्रमुख-निर्णय लेने वाली बैठक का एजेंडा होने की संभावना है। हाल ही में कई प्रमुख मुद्दों पर सरकार के कदमों पर प्रस्ताव पारित होने की संभावना है। भाजपा के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार ने हाल ही में केंद्र में आठ साल का शासन पूरा किया है। बैठक में पार्टी आने वाले महीनों में और अगले साल की शुरुआत में कई राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों पर भी चर्चा कर सकती है।पीएम मोदी का तेलंगाना की राजधानी का दौरा उस दिन हो रहा है जब मुख्यमंत्री अन्य विपक्षी नेताओं के साथ राष्ट्रपति चुनाव के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा का स्वागत करने के लिए तैयार हैं। इससे पहले, शुक्रवार को बीजेपी अध्यक्ष नड्डा ने हैदराबाद में बड़ा रोड शो किया। नड्डा ने रोड शो के बाद एक ट्विटर पोस्ट में कहा, “आज हैदराबाद में इस रोड शो का नेतृत्व करना मेरे लिए गर्व का विषय था क्योंकि इसने मुझे अपने समर्पित कार्यकर्ताओं और शहर के लोगों के आसपास रहने का मौका दिया।मैंने जो प्यार और स्नेह देखा, वह भाजपा की निर्विवाद रूप से बढ़ती उपस्थिति को दर्शाता है। गुजरात, हिमाचल प्रदेश और कर्नाटक उन राज्यों में से हैं जहां चुनाव होने हैं – इन सभी राज्यों में भाजपा सत्ता में है। पार्टी तेलंगाना में भी आक्रामक रूप से प्रचार कर रही है, जहां उसने मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के नेतृत्व वाली सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) के विकल्प के रूप में खुद को खड़ा किया है। रिपोर्ट अशोक झा

Related Articles

Back to top button