North Bengal Politics Siliguri WestBengal

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर समाज कल्याण दफ्तर में कार्यक्रम का आयोजन।

हरिश्चंद्रपुर: अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर मालदा जिला के हरिश्चंद्रपुर नारी शिशु उन्नयन विभाग एवं समाज कल्याण विभाग के द्वारा एक कार्यक्रम आयोजन।

उक्त कार्यक्रम की उद्घोषणा दीप प्रज्वलित कर के किया जिला परिषद नारी शिशु उन्नयन विभाग की मरजीना खातून।इसके अलावा बीडीओ अनिर्वान बसु, खुदरा एव हस्तशिल्प विभाग के वाइस चेयरमैन तजीमुल हुसैन, सीडीपीओ अरूप सरकार सहित और भी अतिथि उपस्थित थे।

आईसीडीएस कर्मियों द्वारा एक सोभा यात्रा निकाली गयी।शोभायात्रा ने पूरे हरिश्चंद्रपुर पथ की पूरी परिक्रमा की ।

हरिश्चंद्रपुर नारी एवं शिशु कल्याण विभाग द्वारा 10 से 19 वर्ष की बालिकाओं के लिए हरिश्चंद्रपुर टाउन हॉल लाइब्रेरी मैदान में खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है।

कार्यक्रम में मौजूद सभी अतिथियों ने नारी के सम्मान,त्याग और कामयाबी के ऊपर भाषण दिये।इसके अलावा मरजीना खातून ने बताया कि समाज के कल्याण में नारी की मुख्य भूमिका है,महिलाओं के योगदान से ही स्वस्थ, शिक्षित और सुदृढ़ समाज का निर्माण संभव हो सकता है इसलियें नारी की सुरक्षा की जिम्मेवारी घर मे और घर के बाहर पुलिस प्रशासन द्वारा की जानी चाहिए,यह प्रत्येक व्यक्ति को समझना चाहिए कि एक स्त्री माँ, बीबी एवं बेटी है।

समाज के प्रत्येक मनुष्य को नारी के प्रति अपने कर्तव्यो का निर्वाहन करना चाहिए ताकि किसी भी महिला को समाज मे असहजता महसूस न हो ,इनके साथ कोइ अप्रिय घटना ने घटे और न ही किसी भेड़िये के हवस की बलि इनको चढ़ना परे।

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी एक नारी है जिस वजह से वे महिलाओं के हित मे उनके विकास के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाओ को पटल पर लाकर समाज मे बराबर के सम्मान की हकदार बनाती है ।इन्ही वजह से विश्व बंगला की खिताब से उन्हें सम्मानित किया गया ।

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर हरिश्चंद्रपुर में खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया ,उक्त प्रतियोगिता में 10 से 19 वराह तक कि लड़कियों ने भाग लिया ।खेल के दौरान कुल सात इवेंट हूए जिनमे से 21 लड़कियों को जिताने पर पुरस्कृत किया गया।विजेता लड़कियों को पुरस्कार प्रदान किया मालदा जिला परिषद की नारी एवं शिशु कल्याण विभाग की कर्माध्यक्ष मरजीना खातून ने।

Share this:

You may also like