National North Bengal Politics Sikkim Siliguri WestBengal

बागडोगरा एयरपोर्ट ड्राइवर एसोसिएशन एवं ओला चालकों के बीच तनाव !

बागडोगरा एयरपोर्ट ड्राइवर एसोसिएशन एवं ओला चालकों के बीच तनाव

बागडोगरा एयरपोर्ट इन दिनों बागडोगरा की स्थानीय टैक्सी चालक एवं सिलीगुड़ी आसपास के ओला चालकों के बीच तनाव बना हुआ है

एक तरफ बागडोगरा टैक्सी ड्राइवर एसोसिएशन के ड्राइवरों का आरोप है की ” ओला चलाने वाले चालक जोकि सिलीगुड़ी सिक्किम दार्जिलिंग से आते हैं और अपने गपैसेंजरों को एयरपोर्ट पर छोड़ डाउन भाड़ा लेने के लिए एयरपोर्ट परिसर में ही रुक जाते हैं और डाउन भाड़ा लेकर ही वह वापस लौटते हैं ?

इसको लेकर स्थानीय स्थानीय ड्राइवरों में काफी आक्रोश है चालकों द्वारा यह भी आरोप लगाया जा रहा है कि जब वह सिलीगुड़ी के ओला चालको को बागडोगरा में किसी ओला चालक को यह सब ना करने के लिए रुकते हैं तो वह उन्हें धमकी देते हैं की अगर वह सिलीगुड़ी में देखेंगे तो उन्हें सबक सिखायगे और भी कई सारे गंभीर भी आरोप स्थानीय चालकों ने लगाया है ,

वहीं दूसरी तरफ ओला एसोसिएशन के एक एक सदस्य कुनाल छेत्री द्वारा जानकरी दी गई कि जो आरोप बागडोगरा चालक तरफ से लगाया जा रहा है ,इन सभी आरोपों को बेबुनियाद बताते है ,साथ ही वहां के पदाधिकारी द्वारा बताया गया है कि पिछले 2 महीनों से ओला चालकों को बागडोगरा टैक्सी चालकों द्वारा बार-बार परेशान किया जा रहा है ,

वहां उन्हें उनके चालकों को साथ साथ गाड़ी में बैठे पर्यटकों को भी डिस्टर्ब किया जा रहा है इससे कई सारी समस्याओं का सामना बागडोगरा एयरपोर्ट पर जाने पर उन्हें और उनके चालकों को झेलना पड़ रहा है ,

कई बार चालकों को हाथापाई का भी शिकार होना पड़ रहा है उनके गाड़ियों को नुकसान पहुंचाया जा रहा है इसके बारे में कई सारी शिकायतें प्रशासन को भी दी गई है लेकिन प्रशासन से अब तक किसी भी तरह का सहयोग नहीं मिल पा रहा है,

ऐसे में बागडोगरा के पैसेंजर का लेना मजबूरन बंद करना पड़ रहा है जिससे ओला में शामिल गरीब वर्ग चालकों का गाड़ी का बैंक का लोन भी चुकता करना भारी पड़ी है ,

ऐसे में उनके परिवार एवं चालक का स्थिति काफी बिगड़ता नजर आ रहा है ओला चालकों का अनुरोध है कि कृप्या इस मामले में प्रशासन का हस्तक्षेप आए और रोज-रोज के समस्या से निवारण मिले ,

ओला चालक बागडोगरा टैक्सी चालक के सभी सदस्यों का सम्मान करते हैं एक चालक होने के नाते उन्हें चालक का दुख तकलीफ पता है और वह एक दूसरे के साथ भाईचारे के साथ मिलकर काम करना चाहते हैं !

खबर आजकल से अमर साह की रिपोर्ट !

Share this:

You may also like