Politics

26 जनवरी को हो रहा है भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का कार्यकाल समाप्त, किसे मिलेगा मौका जाने..

भारतीय जनता पार्टी के संविधान के अनुसार कोई भी व्यक्ति अपने जीवन काल में मात्र 2 बार ही राष्ट्रीय अध्यक्ष चुना जा सकता है। यही वजह है कि अब भाजपा के सामने बड़ी चुनौती आन पड़ी है। क्योंकि यदि अमित शाह को अध्यक्ष बनाया जाता है तो भाजपा को अपने संविधान में बड़ा बदलाव करना होगा। लेकिन सूत्रों की मानें तो भारतीय जनता पार्टी अमित शाह के कार्यकाल को आगे बढ़ाने वाली है तथा सुनने में आ रहा है कि लोकसभा चुनाव 2019 तक अमित शाह ही अस्थाई तौर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद संभालने वाले हैं।

वर्तमान समय में सभी पार्टियों की राजनीति पर पूरे देश की नजरें टिकी हुई है। गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी ने वर्तमान समय में भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह के नेतृत्व में काफी ज्यादा उपलब्धियां हासिल की है। यही वजह है अमित शाह भारतीय जनता पार्टी के सबसे सफलतम अध्यक्षों में से एक गिने जाते हैं। गौरतलब है कि साल 2014 में भाजपा की प्रचंड जीत के बाद तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह को गृह मंत्री बनाकर उनसे राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद ले लिया गया था।

यही वजह है कि उस समय पर राजनाथ सिंह के अधूरे कार्यकाल को पूरा करने के लिए अमित शाह का चयन किया गया। जिसके बाद तकरीबन 2 सालों तक अमित शाह ने इस जिम्मेदारी को निभाया था।

हालांकि इसके बाद एक बार फिर से अमित शाह को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया तथा इस बार उनका कार्यकाल कुल 3 वर्षों का था जो कि 26 जनवरी 2019 को समाप्त हो रहा है।

[News & info Credit – CHN Hindi ]

Share this:

You may also like