Khabar Aajkal Siliguri

बिहार में बाढ़ से जनजीवन अस्त व्यस्त, बिहार जाने से पहले ले पुरी जानकारी !

सिलीगुड़ी: बंगाली में रहने वाली बिहार के सैकड़ों लोगों के लिए दुखद खबर यह है कि बिहार में बाढ़ में तांडव मचाना शुरू कर दिया है जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है लोग किसी तरह ऊंचे स्थान पर रह कर अपने जीवन को वसर कर रहे हैं। ऐसे में अगर विहार यहां के लोग जाना चाहते हैं तो जानकारी प्राप्त करने के बाद भी अपनी यात्रा शुरू करें। बताया जा रहा है कि बिहार में बाढ़ की भयावहता लगातार जारी है।पटना से लेकर कहलगांव तक गंगा उफनाई हुई है।

गंगा हाथीदह के बाद भागलपुर में भी जलस्तर के पुराने रिकॉर्ड को पार कर चुकी है। भागलपुर में गंगा का इस्माइलपुर-बिंदटोली बाया तटबंध 10 मीटर की चौड़ाई में टूट गया है, जिसे जल संसाधन विभाग के इंजीनियर बंद करने की कोशिश में जुटे हुए हैं। वैसे पटना में गंगा का जलस्‍तर अब धीरे-धीरे कम होने लगा है. इलाहाबाद से बक्सर तक यह नदी तेजी से उतर रही है. पुनपुन नदी के जलस्‍तर में भी कमी हो रही है. सोन नदी अभी भी लाल निशान के ऊपर बह रही है।

रेलवे अधिकारियों का कहना है कि लैलख ममलखा के पास ब्रिज नंबर 144 ए के गार्डर तक पानी पहुंच गया है. इसलिए डीआरएम ने तत्काल इस रेलखंड पर ट्रेन परिचालन रोकने का निर्देश दिया. इस रेलखंड से चलने वाली ट्रेनों को या तो रद्द कर दिया गया है. वहीं, कई ट्रेनों को दुमका से बांका की ओर डाइवर्ट कर दिया गया है. वहीं, रेलवे ने जलस्तर पर नजर रखने के लिए पेट्रोलिंग टीम को पुल के पास तैनात किया है. ट्रेन चलाने के लिए जलस्तर कम होने का इंतजार किया जा रहा है.

पानी कम होने के बाद पुल की जांच होगी. लाइट इंजन चलाकर ट्रायल किया जाएगा. इसके बाद ट्रेन परिचालन शुरू किया जाएगा. वहीं, सोमवार को भी कई ट्रेनें डाइवर्ट कर दी गई थीं. कुछ ट्रेनों को शार्ट टर्मिनेट कर दिया गया. खबर है कि विक्रमशिला एक्सप्रेस बांका जसीडीह होकर चलायी जा रही है. ट्रेनों का परिचालन वैकल्पिक मार्ग भागलपुर-बांका-जसीडीह-किऊल के रास्ते कराया जा रहा है।बांध ध्वस्त होने की जानकारी मिलते ही जल संसाधन विभाग के भागलपुर के अधीक्षण अभियंता, फ्लड फाइटिंग फोर्स के अध्यक्ष, सहायक अभियंता सहित कई पदाधिकारी मौके पर पहुंचे और तटबंध टूटने की जानकारी तत्काल जिला प्रशासन को दी।

जिला पदाधिकारी सुब्रत कुमार सेन के निर्देश पर  अनुमंडल पदाधिकारी अखिलेश कुमार ने मौके पर पहुंचकर बाढ़ प्रभावित इलाके का जायजा लिया एवं बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने के लिए तत्काल स्थानीय स्तर पर नाव की व्यवस्था करने के लिए अंचलाधिकारी को कहा।

वहीं स्थिति की भयावहता को देखते हुए जिला पदाधिकारी सुब्रत कुमार सेन, जिला उप विकास आयुक्त सुनील कुमार, एसपी सुशांत कुमार सरोज एवं जिला के कई पदाधिकारी  मौके पर पहुंचकर देर शाम तक कैम्प किए हुए थे।

News Co-Ordinator and Advisor, Khabar Aajkal Siliguri

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *